Rajasthan: पूर्व मंत्री बागी रमेश मीणा ने पूछा- सीएम बतायें बसपा से कांग्रेस में आने पर हमें कितने रुपये दिये

0
86

राजस्थान में चल रहे सियासी बवंडर के बाद मंत्रिमंडल से बर्खास्त किये गये बागी पूर्व कैबिनेट मंत्री रमेश मीणा ने सीएम अशोक गहलोत के आरोपों का करारा जवाब देते हुए वीडियो जारी कर उनसे कई सवाल किये हैं.

जयपुर. राजस्थान में चल रहे सियासी बवंडर के बाद मंत्रिमंडल से मंत्री पद से हटाए गए सचिन पायलट खेमे के बागी पूर्व कैबिनेट मंत्री रमेश मीणा ने सीएम अशोक गहलोत के आरोपों का करारा जवाब देते हुए उनसे कई सवाल किये हैं. मीणा ने एक वीडियो जारी कर गहलोत पर पलटवार करते हुए कहा है कि आज सीएम जो करोड़ों के लेन-देन की बात कर रहे हैं वे यह बताएं कि जब हम बसपा में थे और कांग्रेस ज्वॉइन की तो हमें कितने पैसे दिए गये? सीएम इसका खुलासा करें.

मीणा ने सीएम पर आरोपों की बौछार करते हुए कहा कि पूरे राजस्थान में ब्यूरोक्रेट्स हावी थे. जनप्रतिनिधियों के काम नहीं हो रहे थे. हमने ये बातें कैबिनेट में भी रखी थी, लेकिन हमारी मांगों पर सीएम ने ध्यान नहीं दिया. बकौल मीणा, सरकार में जो लोकतंत्र होना चाहिए वह स्थापित नहीं किया गया. तानाशाही रवैया अपनाया गया.

‘गहलोत वास्तव में जादूगर हैं’

रमेश मीणा के साथ ही बागी विधायक मुरारीलाल मीणा ने भी सीएम के आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि अशोक गहलोत वास्तव में जादूगर हैं, जो झूठ को सच दिखा देते हैं. मुरारीलाल ने भी रमेश मीणा के सवाल को दोहराते हुए कहा कि जब हम बसपा से कांग्रेस में शामिल हुए उस वक्त हमें कितना पैसा दिया गया था यह भी बताएं. उस समय हम ईमानदार थे तो आज भ्रष्ट कैसे हो गए. मुरारीलाल ने कहा कि हमारी नाराजगी का एक ही कारण है हमारा स्वाभिमान.

READ More...  Khelo India Youth Games: 78 Gold के साथ महाराष्ट्र बना चैम्पियन

‘हमारे संस्कार डरने के नहीं’

मुरारीलाल ने कहा कि हम आज तक पार्टी के खिलाफ नहीं बोले हैं. अगर फिर भी वे चाहते हैं तो हमें विधायकी की भी कोई परवाह नहीं है. हम चुनाव जीतकर दोबारा भी एमएलए बन सकते हैं. हमारे संस्कार डरने के नहीं हैं. हम आदिवासी समाज से आते हैं. उनको यह दिमाग से निकाल देना चाहिए. आज की तारीख में हम सब पढ़े लिखे हैं और सब चालों को समझते हैं.