मां ने 4 साल के बेटे को टंकी में डुबोकर मार डाला, फिर नसें काटकर हमले की कहानी रची

0
393

झुंझुनूं: पति-पत्नी के बीच आए दिन के झगड़ों ने एक मासूम की जान ले ली। बुडानिया गांव में पति विद्याधर स्वामी के आए दिन के झगड़ाें और चरित्र पर संदेह करने से परेशान पत्नी सुनीता स्वामी ने रात को 4 साल के बेटे विवान को पानी की टंकी में डुबाेकर मार डाला। इसके बाद हत्या काे हमले का रूप देने के लिए हाथों व गले की नसें काट ली। उसने परिजनाें काे बताया कि काेई हमला कर विवान को उठा ले गया। बाद में उसका शव टंकी में मिला। वारदात के समय सुनीता का पति किसी शादी में गया था। सूचना मिलने के बाद माैके पर पहुंची पुलिस ने भी एक बार ताे सुनीता की कहानी पर यकीन कर लिया। लेकिन डाॅग स्कवाॅयड सुनीता के कमरे से लेकर टंकी के बीच ही घूमती रहा। पुलिस काे बेड के नीचे खून से सनी ब्लेड भी मिल गई। पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की ताे सुनीता ने सारा राज खाेल दिया।

चरित्र पर शक करता था पति
सुनीता ने कबूला कि पति को उसके चरित्र पर शक था। इस कारण रोज घर में झगड़े होते थे। इनसे तंग आकर उसने बेटे की जान ली। पति विद्याधर किसी शादी में गया हुआ था। वहां से लौटकर वह भी विराट के पास जाकर सो गया। रात करीब दो से तीन बजे के बीच सुनीता उठी और विवान को साथ लेकर बाहर आई। इसके बाद वह घर में बनी पानी की टंकी के पास गई और विवान को उसमें डाल दिया। वह काफी देर तक तड़पता रहा। आखिरकार डूब जाने से उसकी मौत हो गई। एसपी जगदीशचंद्र शर्मा ने बताया कि महिला ने पूछताछ में बेटे की हत्या करना कबूल किया है। उन्होंने बताया कि यदि पति के चरित्र पर शक करने की बात सही है तो पति पर भी मानसिक रूप से परेशान करने का मामला दर्ज किया जाएगा।

READ More...  दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन की तबीयत बिगड़ी, तेज बुखार और सांस लेने में तकलीफ