Rajya Sabha Elections: बाड़ेबंदी में कांग्रेस विधायकों से पूछा जा रहा- CM से शिकायत तो नहीं है

0
216

जयपुर. राज्यसभा चुनाव से पहले कांग्रेस विधायकों  में नाराजगी की खबरों और बीजेपी द्वारा उन पर डोरे डालने की चर्चाओं के बीच पार्टी ने उनको दिल्ली रोड स्थित रिसॉर्ट में एक जगह रखकर को उनकी नाराजगी दूर करने की मुहिम शुरू की है. कांग्रेस के सीनियर नेता अब ये पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि कौन कौन विधायक नाराज है और उनकी सरकार या सीएम से शिकायत क्या है?

कांग्रेस ने निर्दलीय और सहयोगी दलों के विधायकों की नब्ज टटोलने का जिम्मा 4 सहप्रभारियों को सौंपा है. इनमें विवेक बंसल काजी निजामुद्दीन, देवेंद्र यादव और तरुण कुमार एक-एक विधायक से बात कर रहे हैं. हर विधायक से बात कर उनसे पूछा जा रहा है कि सरकार से नाराजगी तो नहीं है. विधायकों को ये भी कहा जा रहा है कि वे निष्ठा बनाए रखें और बीजेपी के किसी भी प्रलोभन से दूर रहें.

वरिष्ठ नेताओं से सुरजेवाला कर रहे हैं चर्चा
कांग्रेस की ओर से चुनाव के लिए पर्यवेक्षक बनाए गए रणदीप सुरजेवाला कांग्रेस के अन्य सीनियर नेताओं और मंत्रियों से बात कर रहे हैं. सुरजेवाला ने पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह, खाद्य एंव नागरिक आपूर्ति मंत्री रमेश मीणा और वरिष्ठ नेता एंव विधायक हेमाराम चौधरी से अलग-अलग बात की. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सहयोगी दलों के विधायकों से खुद बात कर रहे हैं. भारतीय ट्रायबल पार्टी के दोनों विधायकों को लेकर वे खुद गुरुवार रात में रिसोर्ट पहुंचे और बाडेबंदी में शामिल किया.

अन्य विधायकों को भी मनाया जा रहा

सभी सहयोगी दलों के विधायकों को भी बाड़ेबंदी में रहने के लिए मनाया जा रहा है, लेकिन इस बीच रिसॉर्ट में सुविधाओं को लेकर विधायकों ने गुरुवार रात को शिकायत की थी. कई सीनियर विधायक और मंत्री रात में बाड़ेबंदी की व्यवस्थाओं को छोड़कर घर लौट गए थे. शुक्रवार को होटल बदलने पर विचार किया जा रहा है. विधायकों को दूसरी होटल में शिफ्ट किया जा सकता है.

READ More...  सुशांत सिंह राजपूत ने की आत्महत्या, घर पर लगाई फांसी