200 पदों पर आए सवा लाख आवेदन, ACF/FRO भर्ती परीक्षा स्थगित करवाने की मांग हुई तेज

0
28

आरपीएससी की ओर से करीब 9 साल के इंतजार के बाद ACF/FRO भर्ती निकाली गई. करीब 200 पदों पर निकाली गई इस भर्ती के लिए करीब सवा लाख से ज्यादा आवेदन प्राप्त हुए हैं. आरपीएससी की ओर से परीक्षा को लेकर 20 सितम्बर से 27 सितम्बर तक डेट निर्धारित की गई है लेकिन कोरोना के बीच आयोजित हो रही इस परीक्षा को स्थगित करवाने की मांग अब लगातार तेज होने लगी है. आरपीएससी की ओर से परीक्षा का आयोजन 20 से 27 सितम्बर तक प्रस्तावित है. आरपीएससी की ओर से संभाग स्तर पर ही परीक्षा का आयोजन करवाया जा रहा है. भर्ती में प्रत्येक अभ्यर्थी को सात दिनों में चार पेपर्स देने होंगे, ऐसे में अब आवेदनकर्ताओं के सामने परीक्षा के दौरान रहने और खाने की समस्या खड़ी हो सकती है. साथ ही बाहरी राज्यों से परीक्षा देने आने वाले अभ्यर्थियों द्वारा कोरोना का खतरा भी ज्यादा बढ़ता हुआ नजर आ रहा है.

परीक्षा को लेकर आवेदनकर्ता लोकेन्द्र का कहना है कि भर्ती में करीब सवा लाख अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है लेकिन लॉक डाउन लगने की वजह से अधिकतर बेरोजगार या तो अपने राज्यों या फिर अपने गांव चले गए हैं. ऐसे में पिछले 5 महीनों से उनकी पढ़ाई बाधित हुई है. इसके साथ ही बाहरी राज्यों से आने वाले अभ्यर्थी के परीक्षा देने के लिए आने से कोरोना का खतरा बढ़ने की संभावना है. संभाग स्तर पर परीक्षा होने से रहने और खाने की समस्या भी खड़ी हो सकती है क्योंकि यातायात अभी पूरी तरह से सुचारू नहीं हुआ है तो परीक्षार्थी समय पर परीक्षा देने पहुंच सकेंगे इसकी भी चिंता है.  200 पदों पर करीब सवा लाख अभ्यर्थियों ने किया आवेदन इनमें से करीब 60 हजार आवेदनकर्ता राजस्थान के बाहर के तो वहीं करीब 30 हजार आवेदनकर्ता अंतिम वर्ष के अभ्यर्थी लेकिन अभी तक अंतिम वर्ष की परीक्षा का नहीं हुआ आयोजन ऐसे में इन अभ्यर्थियों के भर्ती से बाहर होने की सता रही चिंताआवेदनकर्ता अभ्यर्थी अतुल का कहना है कि “इस भर्ती का करीब 9 सालों से इंतजार किया जा रहा था. लाखों अभ्यर्थियों ने इसकी तैयारी की है लेकिन कोरोना के बीच में इस परीक्षा का आयोजन कई बेरोजगारों के सपनों को चकनाचूर कर सकता है. इसलिए सरकार को बेरोजगारों के हितों को ध्यान में रखते हुए फैसला लेना चाहिए. बहरहाल, परीक्षा स्थगित करवाने की मांग को लेकर बेरोजगार हर मंत्री से लेकर हर अधिकारी तक को गुहार लगा चुके हैं, ऐसे में परीक्षा स्थगित नहीं होने पर बेरोजगारों ने बड़े आंदोलन की चेतावनी तक दे डाली है.

READ More...  ऐसी थी उनकी सियासी जिंदगी, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉ. हरिसिंह का निधन