सहवाग का बड़ा बयान, कहा- जो धोनी ने मेरे साथ किया वो ऋषभ पंत के साथ न करें विराट कोहली!

0
343

नई दिल्ली: 14 जनवरी 2020 मुंबई वनडे. ये वो मुकाबला है जब ऋषभ पंत के सिर पर गेंद लगी थी और उसके बाद उन्हें एक मैच का आराम लेने की सलाह दी गई थी. लेकिन टीम इंडिया मैनेजमेंट ने इस मैच के बाद ऋषभ पंत को ढंग से ही आराम दे दिया. पंत ने मुंबई वनडे के बाद से कोई मैच नहीं खेला है. विराट एंड कंपनी ने केएल राहुल को विकेटकीपर बना दिया है और इस वजह से पंत अब प्लेइंग इलेवन में भी जगह नहीं बना पा रहे हैं. ऋषभ पंत को मौके नहीं मिलने पर पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग बेहद निराश हैं. सहवाग ने टीम इंडिया मैनेजमेंट पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर पंत को टीम से बाहर रखेंगे तो वो रन कैसे बनाएंगे?

सहवाग ने खड़े किए टीम इंडिया पर सवाल
ऋषभ पंत को जब न्यूजीलैंड के खिलाफ चौथे टी20 में भी मौका नहीं मिला तो सहवाग  ने क्रिकबज़ के साथ खास बातचीत में इस फैसले पर सवाल खड़े कर दिए. सहवाग ने कहा, ‘सचिन तेंदुलकर को भी बाहर बैठा कर रखोगे ना तो वो भी नहीं बना सकते. वो बाहर बैठकर पानी ही पिला सकते हैं. कोहली खुद कहते हैं कि पंत एक मैच विनर हैं लेकिन वो उन्हें मौके नहीं दे रहे हैं, शायद ये मानना है कि वो लगातार रन नहीं बना सकते.’

सहवाग ने आगे कहा, ‘ऋषभ पंत तीनों फॉर्मेट खेलते हैं और ऐसा मुमकिन नहीं है कि कोई खिलाड़ी तीनों फॉर्मेट में रन बनाए, वो एक फॉर्मेट में फ्लॉप जरूर होता है.’ इसके बाद वीरेंद्र सहवाग ने विराट कोहली पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि शायद वो खिलाड़ियों से बात नहीं करते हैं. सहवाग ने कहा, ‘हमारे समय में जब कप्तान थे चाहे सौरव गांगुली हों, अनिल कुंबले हों या राहुल द्रविड़ हों वो खिलाड़ियों से बात करते थे. मैं इस टीम का हिस्सा नहीं हूं तो मुझे नहीं पता कि विराट कोहली खिलाड़ियों से बात कर रहे हैं या नही. लेकिन रोहित शर्मा के बारे में ये कहा जाता है कि जब वो एशिया कप में कप्तान बनकर गए तो वो खिलाड़ियों से बात करते थे. वहां पर रोहित कहते थे कि खिलाड़ियों में असुरक्षा का भाव है और वो तभी अच्छा महसूस करेंगे जब उनसे बात की जाएगी. मीडिया में जाकर कप्तान कुछ भी कहे, लेकिन उसके बाद वो कप्तान और कोच उस खिलाड़ी से वही बात कर रहा है तो ये अहम होता है.’

READ More...  WHO ने की भारत की तारीफ, कहा- इनके पास कोरोना वायरस से लड़ने की जबरदस्त क्षमता

सहवाग ने साधा धोनी पर निशाना
सहवाग ने इसके बाद धोनी की कप्तानी पर भी सवाल खड़े किए. सहवाग ने आरोप लगाया कि धोनी मीडिया में कुछ और कहते थे और टीम की बैठक में वो अलग बात करते थे. सहवाग ने कहा, ‘ऑस्ट्रेलिया में धोनी ने कहा कि हमारे टॉप 3 बल्लेबाज धीमे फील्डर हैं, हमसे तो ना उन्होंने पूछा और ना ही बताया. हमें तो मीडिया से पता चला. वो मीडिया में बोलकर आ गए लेकिन उन्होंने ये बात टीम मीटिंग में नहीं कही. टीम की बैठक में धोनी ने कुछ और बात कही थी.’

सहवाग ने आगे कहा, ‘उस समय रोहित शर्मा को मौके देने थे तो रोटेशन पॉलिसी लाने की बात हुई थी. एक मैच में टॉप 3 का एक खिलाड़ी बाहर बैठेगा और रोहित शर्मा उस मैच में खेलेंगे. ये तो टीम बैठक की बात थी लेकिन धोनी ने मीडिया से कहा कि ये तीनों खिलाड़ी धीमे फील्डर हैं. अगर मौजूदा टीम इंडिया में भी ऐसा हो रहा है तो गलत है.’