जयपुर के SMS अस्पताल में पहली बार हार्ट ट्रांसप्लांट, राजस्थान के CM गहलोत ने जताई खुशी

0
248

जयपुर. राजस्थान की राजधानी जयपुर के सवाई मानिसंह अस्पताल ने गुरुवार को इतिहास रचते हुए पहली बार हृदय प्रत्यारोपण (Heart transplantation) में सफलता हासिल की है. इस सरकारी अस्पताल में राजसमंद जिले के शख्स ने अंगदान के जरिए दुनिया से जाते-जाते चार लोगों को जीवनदान दिया. इनमें से एक अंग यानी हृदय (हार्ट) एसएमएस अस्पताल में ही ट्रांसप्लान्ट किया गया. इस हार्ट ट्रांसप्लांट को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने खुशी जाहिर करते हुए ट्वीट किया है. उन्होंने कहा है कि ‘आज एसएमएस अस्पताल में पहली बार हार्ट ट्रांसप्लांट के बारे में जानकर खुशी हुई, मैं ईश्वर से इसकी सफलता और मरीज के जल्द स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं.’

सवाई मानसिंह अस्पताल में बुधवार रात 12 बजे एक व्यक्ति को ब्रेनडेड घोषित होने के बाद उसके परिजनों ने अंगदान का फैसला लिया और अंग प्रत्यारोपण की प्रक्रिया शुरू हुई. व्यक्ति का हार्ट, दोनों किडनी और लीवर लेकर लिए अन्य मरीजों को जीवनदान देने का काम आगे बढ़ाया गया.

जानकारी के अनुसार दोनों किडनी एसएमएस अस्पताल में ही जरूरतमंदों को लगाई गईं. जबकि लीवर को निम्स अस्पताल में प्रत्यारोपित किया गया है. एसएमएस अस्पताल में ही हार्ट ट्रांसप्लांट किया गया. जिस मरीज के हार्ट ट्रांसप्लांट किया गया है वह अभी डॉक्टर्स की मॉनिटरिंग में बताया जा रहा है. शुरुआती रिपोर्ट में प्रत्यारोपण सफल रहा है.

एसएमएस में पहली बार हार्ट ट्रांसप्लांट पर CM अशोक गहलोत का ट्वीट

READ More...  धर्म नहीं, असल में ये है असम के हिंसक विरोध प्रदर्शन की वजह