आज कुछ स्थानों पर हो सकती है बारिश विदाई की ओर मानसून

0
29
राजस्थान में मानसून का दौर अब खत्‍म होने वाला है. शुरुआती दौर में सुस्त रफ्तार से चले मानसून ने अगस्त माह में जोर पकड़ा. इसके चलते प्रदेश भर में जोरदार बारिश हुई.

जयपुर. राजस्थान में गत एक महीने से ज्यादा समय से झमाझम बारिश हो रही है. अब दक्षिण-पश्चिम मानसून कमजोर पड़ चुका है. मौसम विभाग ने सोमवार को प्रदेश के किसी भी हिस्से के लिए अलर्ट जारी नहीं किया है. हालांकि, कहीं-कहीं बारिश होने की संभावनाएं जरूर जताई है. इस बार राजस्थान में मानसून सामान्य रहा है और औसत बारिश के आंकड़े को छू लिया है.

जून के आखिरी सप्ताह में प्रदेश में प्रवेश करने वाले मानसून की परफॉर्मेंस इस बार सामान्य रही है. शुरुआत में कमजोर दिखने वाले मानसून ने अगस्त में जबर्दस्त बारिश कर औसत बारिश के आंकड़े को छू लिया है. प्रदेश में सामान्य से 6 फीसदी ज्यादा बारिश हो चुकी है. मौसम विभाग के अनुसार 1 जून से लेकर 3 सितंबर तक प्रदेश में सामान्यतः 362.9 मिलीमीटर बारिश होती है, लेकिन अभी तक 385.2 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है.

अलवर में हुई सबसे कम बारिश

प्रदेश भर में सबसे कम बारिश इस बार अलवर जिले में दर्ज की गई है. वहां सामान्य से 28 फीसदी कम बारिश हुई है. इसके अलावा बारां, भरतपुर, भीलवाड़ा, बूंदी, चित्तौड़गढ़, दौसा, धौलपुर, झालावाड़, झुंझुनूं, करौली, कोटा, टोंक, बीकानेर और हनुमानगढ़ में भी सामान्य से कम बारिश दर्ज की गई है. लेकिन, मेवाड़ में इस बार फिर अच्‍छी बारिश हुई है.

अगले सप्ताह से मानसून की विदाई का दौर हो सकता है शुरू

मानसून की गतिविधियां कमजोर पड़ने के साथ ही अब अगले सप्ताह से मॉनसून की विदाई का दौर शुरू हो सकता है. आमतौर पर प्रदेश के कुछ हिस्सों में 17 सितंबर से मानसून की विदाई शुरू होती है. यह 30 सितंबर तक चलती है. हालांकि, राजधानी जयपुर में सोमवार को भी मौसम सुहावना बना हुआ है और यहां बादल छाये हुये हैं, जिससे बारिश की संभावनायें बन रही हैं.

READ More...  राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका लौटे, भारत को इस दौरे से क्या मिला