कोरोना के खिलाफ युद्ध में प्रधानमंत्री मोदी का भारत लॉकडाउन का ऐलान, वहीं VMate पर डॉक्टतरों ने बताया हमें क्या करना चाहिए

0
111

मंगलवार रात 8 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम सम्बोधन कर देश भर में 21 दिन के सख्त लॉकडाउन की घोषणा की। यह ऐलान था कोरोनावायरस के खिलाफ युद्ध में भारत के एक निर्णायक चरण में प्रवेश करने का, जिसकी अगुआई नर्स और डॉक्टर जैसे चिकित्सा पेशेवर कर रहे हैं। दुनिया भर के विशेषज्ञ इस जानलेवा वायरस से बचाव के लिए टीका बनाने का प्रयास कर रहे हैं, वहीं अस्पतालों में डॉक्टर इस खतरे का मुकाबला जमीनी स्तर पर कर रहे हैं। काम के प्रति उनकी प्रतिबद्धता से उन पर भारी मनोवैज्ञानिक दबाव भी पड़ रहा है।

इस वैश्विक महामारी ने मानवता को बंधक बनाने के साथ ही व्यावहारिक रूप से करोड़ों भारतीय को घरों में कैद कर दिया है, ऐसे में हम सभी ऊब से भी जूझ रहे हैं। इस चरण में VMate जैसा शॉर्ट वीडियो प्लेथटफॉर्म हमारी नीरसता को कारगर तौर पर दूर करने में सामने आया है। हमारा मनोरंजन करने के अलावा, शॉर्ट वीडियो ऐप्सस कोरोना वायरस के संबंध में हमें जानकारी भी मुहैया करा रहे हैं। इस लड़ाई में एक सक्रिय योद्धा के रूप में उभरने वाले VMate ने डॉक्टरों और चिकित्सा पेशेवरों के साथ मिलकर प्रामाणिक और मूल्यवान जानकारी का प्रसार करने का प्रयास किया है।

ट्रेंडिंग शॉर्ट वीडियो ऐप पर डॉक्टरों में से एक हैं हरियाणा के फरीदाबाद की खुशबू तंवर, जिन्होंने सूखी खांसी, बुखार, सिरदर्द, थकान और सांस लेने में तकलीफ को वायरस के विभिन्न लक्षण बताए हैं। वह यह भी बताती हैं कि कैसे हम डॉक्टर स्पिरिट और एलो वेरा का उपयोग करके घर पर सैनिटाइज़र बना सकते हैं। इसी तरह ऐप पर नैनीताल की डॉ चित्रा टम्टा ने एक सामान्य लेकिन हमारे द्वारा की जाने वाली ऐसी गलती के बारे में बताया है जिसका हमें अहसास भी नहीं होता है। हम में से ज्यादातर लोग कोरोनोवायरस के प्रकोप के बाद से मास्क का उपयोग कर रहे हैं लेकिन दु:ख की बात है कि हम में से अधिकांश इसका इस्ते माल गलत तरीके से कर रहे हैं। डॉ. टम्टा ने अपने वीडियोज़ के माध्यम से, मास्क पहनने और सैनिटाइज़र का उपयोग करने के सही तरीके बताए हैं।

एक और वरिष्ठै चिकित्सेक हैं डॉ. अनिमेष जो VMate का उपयोग कर लोगों में जागरूकता फैला रहे हैं। अपने वीडियो में डॉक्टर स्वच्छता सुनिश्चित करने की आवश्यकता और उसके तरीकों पर जोर देते हैं, और लोगों में प्रतिरक्षा बढ़ाने के लिए स्वस्थ आहार लेने की सलाह भी देते हैं। हरियाणा के कुरुक्षेत्र में डॉ. दीपक देवगन भी जानकारी प्रदान करने में अपना योगदान दे रहे हैं। डॉ. देवगन के अनुसार, हमें खुले राशन खरीदने से बचना चाहिए और जब तक यह संकट टल न जाए तब तक ब्रांडेड और पैकेज्ड राशन लेने पर जोर देना चाहिए। उनके मुताबिक कीटाणु/वायरस खुले दालों, चावल आदि के माध्येम से आसानी से प्रसारित हो सकते हैं। इसी तरह उत्तार प्रदेश के गौतम बुद्ध नगर के डॉ. संदीप ने बताया कि नियमित व्यायाम हमारी प्रतिरक्षा को बढ़ावा देने और स्थिति से निपटने में मदद कर सकता है।

READ More...  बीकानेर में NH-11 पर भीषण सड़क हादसा, 10 लोगों की मौत, 20 से अधिक घायल

मानव जाति संभवतः सबसे विकट स्वास्थ्य संकट का सामना कर रही है, ऐसे में VMate पर इन चिकित्सकों द्वारा दिए गए टिप्स और सुझाव हमारे लिए जीवन-रक्षक मंत्र साबित हो सकते हैं। छोटे लेकिन उल्लेखनीय उपायों से वे हमें सशक्त बनाते हैं और कोरोना संकट से निपटने के लिए ताकत प्रदान करते हैं।

यह पहली बार नहीं है कि दुनिया के 10 सबसे अधिक बार डाउनलोड किए गए सोशल मीडिया ऐप में से एक VMate ने हमें कोविड-19 के प्रकोप के संबंध में बहुमूल्य जानकारी दी है। हाल ही में मास्कअ बनाने वालों के कई वीडियोज़ इस प्लेनटफॉर्म पर ट्रेंड हुए थे, जिनमे कारखानों और यहां तक कि छोटे वर्कशॉप्स में मास्क की थोक में सिलाई हुए कारीगर दिख रहे थे। कुछ अन्य लोगों ने अपने वीडियो के माध्यम से बताया की किस तरह से एक साधारण कपड़े/रूमाल का इस्तेमाल मास्क बनाने के लिए किया जा सकता है। इसके अलावा कुछ क्रिएटर्स ने इस मुद्दे को हल्के-फुल्केम अंदाज में पेश कर, इस मुश्किल समय में हमारे चेहरों पर मुस्कान लाने का काम किया है। कुछ लोगों ने लोकप्रिय गीतों की पैरोडी का इस्तेमाल किया है, जबकि कुछ अन्य ने महामारी के विभिन्न पहलुओं पर सभी को शिक्षित करने के लिए विज्ञापनों के जिंगल्स का बखूबी इस्तेमाल किया है।