WHO की चेतावनी- खतरनाक हो रहा है कोरोना, 50% से ज्यादा नए केस भारत, PAK और मिडिल ईस्ट से

0
99

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) ने एक चेतावनी जारी कर कहा है कि कोरोना संक्रमण  दक्षिण एशिया  में काफी तेजी से पैर पसार रहा है. WHO के महानिदेशक टेड्रोस एडहोनम गेब्रेसियोसिस  के मुताबिक बीते 3 दिनों में कोरोना संक्रमण (Covid-19) के जितने भी नए केस सामने आए हैं, उनमें से लगभग 75% से ज्यादा मामले दक्षिण एशिया और US-ब्राजील के हैं. रविवार एक दिन में सबसे ज्यादा 1.36 लाख से ज्यादा मरीज मिले, जिनमें 75% दक्षिण एशिया और अमेरिकी महाद्वीप के 10 देशों से सामने आए हैं.

विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख टेड्रोस एडहोनम ने कहा कि भले ही दुनिया के कुछ देशों में संक्रमण के मामले पहले की तुलना में कम आ रहे हैं, लेकिन वैश्विक स्तर पर यह और ख़तरनाक हो रहा है. उन्होंने पत्रकारों से कहा कि बीते दस दिनों में से नौ दिनो में संक्रमण के एक लाख से भी अधिक मामलों की पुष्टि हुई है. और जितने भी मामले कल आए हैं उनमें से 75 फ़ीसदी मामले सिर्फ़ दस देशों में हैं. उनमें भी ज़्यादातर केस अमेरिका और दक्षिण एशिया से हैं. टेडरोस ने हालांकि इस बात के भी संकेत दिए कि कुछ देशों की स्थिति में सकारात्मक बदलाव आए है. उन्होंने कहा अलग-अलग अध्ययनों से यह बात स्पष्ट होती है कि वैश्विक स्तर पर अभी भी एक बड़ी आबादी संक्रमण के लिहाज़ से अति-संवेदनशील है.

भारत-PAK और मिडिल ईस्ट में बढ़े केस
WHO के मुताबिक एशिया में करीब 14 लाख कोरोना संक्रमण के केस सामने आ चुके हैं जो कि नॉर्थ अमेरिका और यूरोप के बाद तीसरे नंबर पर है. सबसे ज्यादा खतरे की बात ये है कि इनमें से ज्यादातर केस बीते 20 दिनों में ही सामने आए हैं और 35,639 मौतें हुई हैं. एशिया में फिलहाल भारत में सबसे ज्यादा करीब 2,66,000 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं और 7400 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. भारत में हर दिन करीब 10 हज़ार नए केस सामने आ रहे हैं जबकि यहां टेस्टिंग रेट काफी कम करीब 10 लाख पर सिर्फ 3400 ही है.

READ More...  ऐसी थी उनकी सियासी जिंदगी, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉ. हरिसिंह का निधन

भारत के आलावा सऊदी अरब और अप्किस्तान भी कोरोना संक्रमण की बुरी तरह चपेट में हैं. सऊदी अरब में 1,05,283 केस सामने आ चुके हैं जबकि 746 मौतें हुईं हैं उधर पाकिस्तान में भी 1,03,600 से ज्यादा केस सामने आ चुके हैं और 2,067 मौतें हो चुकीं हैं. सऊदी अरब में टेस्टिंग रेट काफी बेहतर करीब 28000 है जबकि पाकिस्तान में ये सिर्फ 3200 ही है.

ब्राज़ील से की डेटा शेयर करने की अपील
विश्व स्वास्थ्य संगठन ने ब्राज़ील से कोरोना वायरस संक्रमण के आंकड़ों को जुटाने और उन्हें साझा करने की अपील की है. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने ब्राज़ील से अपील की है कि वो सतत तौर पर और पारदर्शीता के साथ आंकड़े साझा करे. ब्राज़ील दुनिया का दूसरा सबसे अधिक प्रभावित देश है. ब्राज़ील में संक्रमण के 6 लाख 91 हज़ार से अधिक मामले हैं. ब्राज़ील में कोविड 19 से मरने वालों की संख्या भी 40 हज़ार से अधिक है.

वहीं कोरोना वायरस महामारी की स्थिति को संभालने को लेकर ब्राज़ील की आलोचना भी हो रही है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के हेल्थ इमरजेंसी प्रमुख ने पत्रकारों को बताया कि नागरिकों की सुरक्षा के लिहाज़ से ज़रूरी है कि आंकड़ों को लेकर पारदर्शिता बरती जाए और उन्हें साझा किया जाए. उन्होंने कहा, ‘उन्हें यह समझने की ज़रूरत है कि आख़िर हो क्या रहा है? उन्हें ये भी जानने की आवश्यकता है कि वायरस कहां और कितना फैल चुका है. उन्हें यह पता करने की ज़रूरत है कि वे कैसे इस संक्रमण को संभालेंगे.’