महिला की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल, धनबाद में रिकवरी एजेंट ने अपनों पर ही बरसाई गोलियां

0
13

एसएसपी ने असीम विक्रांत मिंज ने बताया की उपेन्दर सिंह द्वारा अपने ही चाची और चचेरे भाई को घरेलू विवाद में गोली मार दी. जिसमें तीन लोगो घायल होने की सूचना मिल रही है.धनबाद में दिलदहलाने वाली घटना शुक्रवार को सामने आई. दरअसल,भोर में जब धनबाद के ज्यादातर लोग अपने घरों में सोए हुए थे उसी वक्त मटकुरिया का न्यू रेलवे कॉलोनी गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज उठा. जानकारी के अनुसार, इस अंधाधुंध गोलीबारी में एक महिला की जान चली गई है तो वहीं दो युवक बुरी तरह से घायल हो गए है.यह गोलीबारी अपने ही परिवार के लोगों के ऊपर आपसी रंजिश में की गई है. बताया जा रहा है कि न्यू रेलवे कॉलोनी निवासी उपेंद्र सिंह जो पेशे से एक रिकवरी एजेंट हैं. उनका अपने ही चचेरे भाइयों से रिकवरी एजेंटी को लेकर कोई विवाद चल रहा था. शुक्रवार सुबह इसी विवाद को लेकर आरोपी उपेंद्र सिंह का अपनी ही चाची मीरा देवी से विवाद बढ़ गया.इसके बाद देखते ही देखते उपेंद्र सिंह और उसकी चाची के बीच हाथापाई शुरू हो गई. यह देख उपेंद्र सिंह के चचेरे भाई पिंटू सिंह और सिंटू सिंह बीच बचाव को वहां पहुंचे. जिसके बाद अपने आपको कमजोर पड़ता देख उपेंद्र सिंह ने अपने पास रखे बंदूक से अपनी चाची और दोनों चचेरे भाइयों पर ताबड़तोड़ 9 राउंड गोली फायर कर दी. जिससे तीनों वहीं घायल होकर गिर पड़े. जबकि आरोपी उपेंद्र सिंह मौके से फरार हो गया.धनबाद में दिलदहलाने वाली घटना शुक्रवार को सामने आई. दरअसल,भोर में जब धनबाद के ज्यादातर लोग अपने घरों में सोए हुए थे उसी वक्त मटकुरिया का न्यू रेलवे कॉलोनी गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंज उठा. जानकारी के अनुसार, इस अंधाधुंध गोलीबारी में एक महिला की जान चली गई है तो वहीं दो युवक बुरी तरह से घायल हो गए है.यह गोलीबारी अपने ही परिवार के लोगों के ऊपर आपसी रंजिश में की गई है. बताया जा रहा है कि न्यू रेलवे कॉलोनी निवासी उपेंद्र सिंह जो पेशे से एक रिकवरी एजेंट हैं. उनका अपने ही चचेरे भाइयों से रिकवरी एजेंटी को लेकर कोई विवाद चल रहा था. शुक्रवार सुबह इसी विवाद को लेकर आरोपी उपेंद्र सिंह का अपनी ही चाची मीरा देवी से विवाद बढ़ गया.इसके बाद देखते ही देखते उपेंद्र सिंह और उसकी चाची के बीच हाथापाई शुरू हो गई. यह देख उपेंद्र सिंह के चचेरे भाई पिंटू सिंह और सिंटू सिंह बीच बचाव को वहां पहुंचे. जिसके बाद अपने आपको कमजोर पड़ता देख उपेंद्र सिंह ने अपने पास रखे बंदूक से अपनी चाची और दोनों चचेरे भाइयों पर ताबड़तोड़ 9 राउंड गोली फायर कर दी. जिससे तीनों वहीं घायल होकर गिर पड़े. जबकि आरोपी उपेंद्र सिंह मौके से फरार हो गया.

READ More...  कांग्रेस ने किया CDS की नियुक्ति का विरोध, कहा- गलत कदम उठा रही सरकार